For the best experience, open
https://m.creativenewsexpress.com
on your mobile browser.

पार्क करते वक्त खाई में जा गिरी ऑल्टो कार, चालक की दर्दनाक मौत

02:12 PM Mar 09, 2024 IST | CNE DESK
पार्क करते वक्त खाई में जा गिरी ऑल्टो कार  चालक की दर्दनाक मौत
खाई में जा गिरी ऑल्टो कार, चालक की दर्दनाक मौत
Advertisement

सीएनई रिपोर्टर, रानीखेत। यहां पार्किंग के दौरान एक आल्टो कार अनियंत्रित होकर गहरी खाई में जा गिरी। इस हादसे में कार चालक की दर्दनाक मौत हो गई। वह अपने पीछे माता—पिता, भाई—बहनों का भरा—पूरा परिवार छोड़ गया है।

Advertisement
Advertisement

खाई में जा गिरी ऑल्टो कार, चालक की दर्दनाक मौत
खाई में जा गिरी ऑल्टो कार, चालक की दर्दनाक मौत

प्राप्त जानकारी के अनुसार यहां नगर क्षेत्र के धोबी मोहल्ला निवासी बलवंत सिंह नेगी 40 साल पुत्र रघुवर सिंह नेगी गत रात्रि अपनी ऑल्टो कार संख्या Uk 01 TA 2608 नित्य की तरह रात दस बजे घर के समीप ही पार्क कर रहे थे। बैक करते वक्त अचानक कार अनियंत्रित होकर गहरी खाई में जा गिरी।

Advertisement

घटना की सूचना स्थानीय लोगों द्वारा पुलिस प्रशासन को दी गयी। पुलिस ने नागरिकों के सहयोग से रेस्क्यू अभियान चलाया और घायल को सड़क तक ले आये। जिसके उपरांत उन्हें एम्बूलेंस में ले जाया गया। जहां नागरिक चिकित्सालय रानीखेत में पहुचने पर चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

शिवरात्रि का रखा था ब्रत, रात्रि को हो गया हादसा

पुलिस के अनुसार प्रथम दृष्टया मृतक बलवंत सिंह नेगी के शरीर में बाहरी चोटें नही दिखीं।आशंका जताई कि मृतक के सर पर गुम चोटें आने से मौत हुई होगी। मृतक के बड़े भाई भूपाल सिंह नेगी ने बताया उनके परिवार में माता पिता तथा दो भाई एवं दो बहनें हैं। बहनों की शादी हो गयी है। बताया कि उनका भाई बीते दिन शिवरात्रि को व्रत लिए हुए था। दोपहर को 2 बजे घर से निकला था। जहां रात्रि को वापसी में यह हादसा हूआ।

Advertisement

सामाजिक कार्यों में रहती थी सक्रियता

बताया जा रहा है कि की शादी नही हुई थी। वह नगर में स्थानीय लोगों के साथ काफी घुले—मिले थे। सामाजिक कार्यो में सदैव उनकी उपस्थिति रहती थी। घटना के बाद से पूरे क्षेत्र में शौक की लहर है। शनिवार को एसआई सुभाष चन्द्र सागर, एसआई कैलाश चन्द्र तथा बिशन लाल ने मृतक का पोस्टमार्टम करने के बाद पंचनामा भरके शव को परिजनों को सौंप दिया। मृतक का दाह संस्कार मुक्ति धाम में कर दिया गया है।

Advertisement
Advertisement