For the best experience, open
https://m.creativenewsexpress.com
on your mobile browser.

17 साल के लड़के का गजब अविष्कार, महिला सुरक्षा कवच बनेगा 'स्मार्ट पर्स'

03:15 PM Jul 20, 2023 IST | CNE DESK
17 साल के लड़के का गजब अविष्कार  महिला सुरक्षा कवच बनेगा  स्मार्ट पर्स
17 साल के लड़के का गजब अविष्कार, महिला सुरक्षा कवच बनेगा 'स्मार्ट पर्स'
Advertisement
👉 खतरे में होगी महिला, तुरंत परिवार को चली जाएगी सूचना, वज्यूला के रोहित ने किया स्मार्ट डिवाइस का अविष्कार, अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिता में जीता गोल्ड मेडल

दीपक पाठक, बागेश्वर

Advertisement
Advertisement

देश में आए दिन महिलाओं के साथ दुर्व्यवहार जैसे मामले से जुड़ी कई अपराधों की खबरें सामने आती रहती है। इसमें ज्यादातर वैसा मामला होता है जिसमें महिला अकेली किसी असुरक्षित स्थान पर होती है। हालांकि, अब घबराने की बात नहीं है। बागेश्वर के एक छात्र रोहित ने एक ऐसा पर्स बनाया है, जिससे महिलाएं कहीं भी जाए, मुसीबत में होते ही घरवालों को सूचना पहुंच जाएगी। बस पर्स आपके पास होना चाहिए।

Advertisement

जानिए क्या है यह स्मार्ट पर्स

बागेश्वर के दुरस्त क्षेत्र वज्यूला के 12 वीं के छात्र रोहित परिहार ने एक ऐसा पर्स इन्वेंट किया है, जो लड़कियों और महिलाओं के लिए सुरक्षा की दृष्टि से काफ़ी महत्पूर्ण हो सकता है। रोहित के इस स्मार्ट डिवाइस पर्स को इंटरनेशनल वर्चुअल इनोवेशन प्रतियोगिता में पहला स्थान मिला है। इस प्रतियोगिता में रोहित ने पूरे देश का प्रतिनिधित्व किया था।

रोहित परिहार के 'स्मार्ट पर्स' अविष्कार ने किया देश को किया गौरवान्वित

उल्लेखनीय है कि उत्तराखंड के बागेश्वर जनपद अंतर्गत गरूड़ के रहने वाले रोहित परिहार ने अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता में भारत का प्रतिनिधित्व कर देश को प्रथम स्थान दिलाया है। प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक हासिल किया है। रोहित ने एक ऐसे डिवाइस का निर्माण किया है जो महिला सुरक्षा को लेकर काफी लाभकारी साबित होगा।

Advertisement

इस तरह करेगा महिलाओं की सुरक्षा यह डिवाइस

दावा किया जा रहा है कि यह स्मार्ट पर्स महिला सुरक्षा के लिए बहुत काम का है। यह महिलाओं के साथ हो रही छेड़छाड़ की घटनाओं को काफी मददकार साबित होगा। रोहित ने बताया कि इसके अंदर स्पाई कैमरा, इमरजेंसी ऑटोमेटिक कॉलिंग, जीपीएस नेवीगेशन जैसे फीचर्स भी दिए गये हैं। जब कोई महिला घर से बाहर अकेले जाएगी तो पर्स साथ लेकर जा सकती है। अगर कोई महिला असुरक्षित महसूस करती है तो वह तुरंत इस पर समय लगे बटन को दबा सकती है। जिससे महिला के परिजनों और आस पास के पुलिस थानों में ऑटोमेटिक कॉल चली जायेगी। पर्स में न सिर्फ ऑटोमेटिक कॉल बल्कि उसके साथ साथ असुरक्षित महिला की कैमरा भी लगा हुआ है। जो कि सारी सिचुएशन को रिकॉर्ड कर देगा और परिवार को भेज देगा।

अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता में जीता स्वर्ण पदक

रोहित के इस नवाचार ने इंटरनेशनल कंपीटीशन 2023 में गोल्ड मैडल जीता है। वर्तमान में वर्तमान रोहित कक्षा बारहवीं कॉमर्स के विद्यार्थी हैं। वह उत्कृष्ट राजकीय इंटर कॉलेज वज्यूला गरुड़ में पढ़ता है। बताते चलें कि रोहित अभी 17 वर्ष का है। इससे पहले भी वैज्ञानिक सोच के साथ रोहित अपने स्तर से कई वैज्ञानिक तरकीबें इजाद कर चुका है। उसने इंटरनेशनल वर्चुअल इनोवेशन में शानदार प्रदर्शन कर पहाड़ के साथ ही बागेश्वर का नाम रोशन किया है। रोहित परिहार की इस उपलब्धि पर स्कूल के प्रिंसिपल दीपक आर्या व प्रवक्ता आलोक पांडेय भी गदगद हैं। उन्होंने रोहित को एक होनहार स्टूडेंट बताया और कहा कि रोहित ने स्कूल, क्षेत्र और पूरे देश को गौरवान्वित किया है।

Advertisement

इतिहास रचने निकला चंद्रयान-3, 40 दिन बाद चांद पर उतरेगा



अलकनंदा नदी किनारे बसा हुआ शहर गौचर के बारे में जाने | Gauchar

Advertisement