For the best experience, open
https://m.creativenewsexpress.com
on your mobile browser.

हरिद्वार जा रही कार में चार लोग जिंदा जले, मां के सीने से चिपका मिला बच्चे का कंकाल

09:26 AM Jun 03, 2024 IST | CNE DESK
हरिद्वार जा रही कार में चार लोग जिंदा जले  मां के सीने से चिपका मिला बच्चे का कंकाल
Advertisement

UP News | उत्तर प्रदेश के मेरठ से दर्दनाक हादसे की खबर सामने आ रही है, यहां रविवार रात गंगनहर कांवड़ पटरी मार्ग के सिसोला खुर्द गांव के पास एक सेंट्रो कार में 4 लोगों की जिंदा जलकर मौत हो गई। मरने वालों की अभी तक पहचान नहीं हो पाई है। चारों शवों के कंकाल भी काफी हद तक जल गए हैं।

मृतकों में 2 पुरुष, एक महिला और एक बच्चा है। महिला के सीने से चिपका एक बच्चे का कंकाल मिला है। इससे लग रहा कि मृतकों को मां और उसकी संतान है। कार में लोगों के जलने की गंध एक किमी दूर तक फैली थी। फायर फाइटर्स को भी गंध में आग बुझाने में दिक्कतें हुईं। कार का नंबर DL4C AP4792 है। गाड़ी दिल्ली के सोहनपाल पुत्र ओमप्रकाश निवासी गांव प्रहलादपुर बांगर के नाम पर है।

Advertisement

कार के नाम पर केवल मैटल बॉडी बची है। कार की नंबर प्लेट को ट्रेस किया गया तो कार दिल्ली निवासी व्यक्ति के नाम पर रजिस्टर है, जिनसे संपर्क करने का प्रयास मेरठ पुलिस कर रही है। घटना की सूचना मिलते ही मौके पर सबसे पहले फायर ब्रिगेड टीम पहुंची। घटना रात 9.30 बजे के आसपास की है।

एसपी देहात कमलेश बहादुर सिंह ने बताया कि एक सेंट्रो कार के जलने की सूचना मिली थी। सूचना पर फायर बिग्रेड की गाड़ी ने पहुंचकर आग पर काबू पाया। आग इतनी तेज थी कि आसपास की झाड़ियों में भी आग लग गई थी। कार की आग बुझाने पर उसमें चार कंकाल मिले हैं। ये कार जानी नहर पुल की ओर से भोला झाल नहर पुल की ओर जा रही थी। संभवत: दिल्ली से हरिद्वार जा रहे होंगे।

Advertisement

फोरेंसिक टीम मौके पर पहुंच चुकी है। अभी किसी की भी शिनाख्त नहीं हो सकी है। आसपास के जिलों को सूचना दी जा रही है। कार की चेचिस नंबर आदि से कार मालिक की पहचान की जाएगी। आग लगने के कारणों की जांच की जाएगी। फिलहाल चारों शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है।

मासूम को सीने से चिपकाए रही मां

महिला के कंकाल के सीने पर चिपका एक छोटा सा कंकाल मिला है जो उसके बच्चे का हो सकता है। कंकाल इस तरह सीने से चिपका है मानो मां अपने बच्चे को सीने से लगाए रही हो। मां खुद और अपने बच्चे को बचाने के लिए चिल्लाती रही होगी। लेकिन, इस सुनसान सड़क पर कोई उनकी चीखों को नहीं सुन सका। बच्चे की उम्र लगभग 5 से 6 साल की लग रही है।

फायर फाइटर प्रवीन ने बताया- जब हम मौके पर पहुंचे तो कार बुरी तरह जल रही थी। आग पर काबू पाने का प्रयास किया। आग बुझी तो अंदर डेडबॉडीज थी। ऐसा लग रहा है कि कार में AC चल रहा था। जिसकी वजह से अचानक गाड़ी के इंजन में शार्ट सर्किट हुआ और सीएनजी ने आग पकड़ ली। इसके बाद गाड़ी सेंट्रल लॉक हो गई और कार सवार बाहर नहीं निकल पाए।

2010 मॉडल की गैराज मॉडिफाई कार

कार में आग कैसे लगी इसकी जांच के लिए देर रात एसएसपी ने फायर और फोरेंसिक विभाग को मिलाकर एक जॉइंट जांच टीम बना दी है। जो पूरे हादसे को जांचेगी। टीम की अब तक की जांच के अनुसार कार में CNG सिलेंडर बाहर से लगवाया गया था। कार 2010 मॉडल की है। लग रहा है कि कार को किसी गैराज से मॉडिफाई कराया गया था। कार के डेशबोर्ड और उसके आसपास गैस लीक से आग लगने जैसा लग रहा है। AC में शॉर्ट सर्किट के बाद गैस लीक हुई और आग लगी। आग लगने पर कार का सिस्टम फेल हो गया। कार की विंडो, डोर सब लॉक हो गए। कोई बाहर नहीं निकल सका।

Advertisement