For the best experience, open
https://m.creativenewsexpress.com
on your mobile browser.

प्यार के रास्ते में आ रही थी दादी तो पोती ने बॉयफ्रेंड के दोस्त से कराया कत्ल, ऐसे हुआ खुलासा

05:16 PM May 16, 2024 IST | CNE DESK
प्यार के रास्ते में आ रही थी दादी तो पोती ने बॉयफ्रेंड के दोस्त से कराया कत्ल  ऐसे हुआ खुलासा
Advertisement

Haridwar News | ज्वालापुर में दो दिन पहले तीर्थ पुरोहित परिवार की बुजुर्ग महिला की दिनदहाड़े हत्या के पीछे महिला की पोती ही मास्टरमाइंड निकली। प्रेम प्रसंग में रोक-टोक के चलते उसने अपने बॉयफ्रेंड के दोस्त को ब्लैकमेल करते हुए दादी के कत्ल के लिए तैयार किया था। पुलिस ने आरोपित पोती और बीबीए में पढ़ने वाले मुख्य आरोपित को गिरफ्तार कर घटना का पर्दाफाश कर लिया।

Advertisement

ज्वालापुर कोतवाली में प्रेस कांफ्रेंस के दौरान एसएसपी प्रमेन्द्र डोबाल ने बताया कि ज्वालापुर के मौहल्ला चाकलान निवासी पेशे से तीर्थ पुरोहित अनुराग शर्मा गंगा सप्तमी के अवसर पर पूजा अर्चना के लिए हर की पैड़ी गए हुए थे। उनकी बुजुर्ग मां घर पर अकेली थीं। दोपहर के समय चीख पुकार की आवाज सुन पड़ोसी मौके पर पहुंचे तो उन्होंने बुजुर्ग महिला को लहूलुहान हालत में खून से सने फर्श में पाया।

Advertisement

अभिषेक शर्मा की तहरीर पर हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया। इस मामले में खुलासा के लिए अगले दिन कांग्रेसियों ने कोतवाली ज्वालापुर का घेराव भी किया। जिस पर आचार संहिता का उल्लंघन और सरकारी कार्य में बाधा पहुंचाने के आरोप में उनके खिलाफ मुकदमा भी दर्ज किया गया।

पुलिस ने अलग-अलग एंगल से गहरी पड़ताल करते हुए घटनास्थल की ओर आने-जाने वाले रास्तों पर लगे अनेकों सीसीटीवी कैमरा फुटेज खंगाले। कई संदिग्धों से पूछताछ के साथ ही हत्या के दौरान आवाजाही करते दिख रहे एक संदिग्ध युवक से सख्ती के साथ पूछताछ की तो युवक ने हत्या की बात कबूलते हुए पूरे घटनाक्रम और हत्या की वजह सहित इसमें शामिल सभी किरदारों से पर्दा उठाया।

Advertisement

ये थी हत्या की वजह

संदिग्ध युवक बीबीए छात्र उदित झा ने पूछताछ में बताया कि मृतका की पोती भूमिका (काल्पनिक नाम) का अनुराग के साथ व उदित झा का कनखल निवासी आयशा (काल्पनिक नाम) के साथ अफेयर है। भूमिका और आयशा एवं उदित झा और अनुराग भी आपस में दोस्त हैं।

आयशा और उदित झा के प्राइवेट फोटो/वीडियो मृतका की पोती भूमिका के पास थी। भूमिका अपने ब्वायफ्रेंड अनुराग को समय-समय पर काफी पैसे देती रहती थी और उसको आई फोन के लिए भी पैसे दिए थे। अनुराग लोकल स्तर पर मात्र 10 से 15 हजार रुपए के बीच की नौकरी करता था, लेकिन भूमिका की वजह से उसको कभी भी पैसों की कमी नहीं रही।

Advertisement

घर से धीरे-धीरे करके लगातार पैसे गायब होने पर मृतका अर्चना ने पैसे छुपाने शुरू कर दिए और जल्दी ही मृतका दादी समझ गई कि उसकी पोती भूमिका ही ऐसा करती है। इससे परेशान होकर दादी को अपने रास्ते से हटाने के लिए भूमिका ने अपने साथियों के साथ मिलकर उदित झा को ब्लैकमेल करते हुए धमकी दी कि तू मेरी दादी को रास्ते से हटा दे वरना तेरी प्राइवेट वीडियो को वायरल कर दिया जाएगा। योजना ये बनी कि जब घर के सभी लोग जरूरी काम से घर से बाहर चले जाएं तो युवक घर जाकर दादी का काम तमाम कर दे।

प्लान के तहत दिया गया वारदात को अंजाम

गंगा सप्तमी के दिन मृतका बुजुर्ग महिला अर्चना के घर के सभी सदस्य गंगा स्नान/पूजन हेतु हरिद्वार चले गए तो मृतका की पोती भूमिका ने उदित झा को अपने घर की सारी जानकारी उपलब्ध करवाकर सूचना दी कि आज अच्छा मौका है हमारे घर पर जाकर मेरी दादी को रास्ते से हटा दो।

उदित झा उस समय गंगा पूजा के लिए हर की पैड़ी गया था। वहां से स्कूटी से घर आया और अपने कपड़े चेंज कर रास्ते से अंसारी मार्केट से हथौड़ा खरीदकर अपनी स्कूटी से घर से कुछ दूर आकर स्कूटी को आधे रास्ते में कहीं खड़ी कर दी। उसके बाद सीसीटीवी कैमरो से बचने के लिये छाता ओढ़कर पैदल-पैदल गलियों से चलकर उसके घर पर आया। दरवाजा दादी ने खोला।

उदित झा ने बुजुर्ग पोते मुकुंद के बारे पूछा और उसे अपना दोस्त बताकर मृतका से पीने के लिये पानी मांगा। जब वह बरामदे मे रखे फ्रीज से पानी निकाल रही थी तो उसी दौरान मुख्य उदित झा ने अचानक हथोड़े से उनके चेहरे पर वार कर दिया। जिससे महिला चिल्लाई तो उसने पकड़े जाने के डर से बदहवास हालत में मृतका के सिर व चेहरे के ऊपर हथोड़े से कई वार कर दिये और बुजुर्ग को लहूलुहान कर घर से निकलकर गली में पैदल व अपनी स्कूटी लेकर अपने घर निकल गया। हत्यारोपित की निशानदेही पर हथोड़ा, मास्क, छाता व स्कूटी बरामद की गई। घटना में सीसीटीवी साक्ष्य है, विधिक कार्यवाही अमल में लायी जा रही है।

Advertisement