For the best experience, open
https://m.creativenewsexpress.com
on your mobile browser.
Advertisement

केदारनाथ विधायक शैलारानी का निधन

11:26 AM Jul 10, 2024 IST | CNE DESK
केदारनाथ विधायक शैलारानी का निधन
शैलारानी रावत (फाइल फोटो)
Advertisement

देहरादून | उत्तराखंड की केदारनाथ विधानसभा से विधायक शैला रानी रावत का मंगलवार देर रात निधन हो गया। वह 68 वर्ष की थीं। वह बीते तीन दिनों से देहरादून में एक निजी अस्पताल में वेंटिलेटर पर जिंदगी और मौत से जूझ रही थीं। उनका अंतिम संस्कार बुधवार को होगा।

Advertisement

दिवंगत रावत दूसरी बार विधायक बनी थीं। वर्ष 2012 में उन्होंने कांग्रेस से अपनी राजनैतिक पारी शुरू की। बाद में कांग्रेस से विद्रोह कर, नौ विधायकों के साथ उन्होंने भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ली। इसके बाद वर्ष 2017 के चुनाव में उन्हें हार का सामना करना पड़ा। इसी दौरान, चुनाव प्रचार के दौरान गिरने से उन्हें आंतरिक चोट आई थीं। मांस फटने के कारण उन्हें कैंसर भी हो गया था। करीब तीन वर्ष तक चले इलाज के बाद वह स्वस्थ होकर अपने घर लौटीं और फिर से राजनीति में सक्रिय हो गईं।

Advertisement
Advertisement

भारतीय जनता पार्टी के टिकट पर उन्होंने वर्ष 2022 में एक बार फिर जीत हासिल की। हाल में हुए लोकसभा चुनाव में प्रचार के दौरान, रावत ओंकारेश्वर मंदिर, ऊखीमठ की सीढ़ियों से गिर गईं थीं। इस कारण उनकी रीढ़ की हड्डी फ्रैक्चर हो गया। जिसकी मेदांता अस्पताल में सर्जरी हुई थी, जहां से ठीक होकर वह उत्तराखंड लौट आई थीं। लेकिन बीते कुछ दिनों से उनकी तबीयत खराब हो गई थी, जिसके बाद उन्हें देहरादून के मैक्स अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जहां उन्हें वेंटिलेटर पर ह रखा गया, लेकिन तीन दिन बाद उनकी मौत हो गई। आज उनकी पार्थिव देह का दाह संस्कार किया जाएगा।

Advertisement

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने केदारनाथ विधानसभा से विधायक शैलारानी रावत के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए ईश्वर से दिवंगत आत्मा को अपने श्रीचरणों में स्थान एवं शोक संतप्त परिजनों को इस असीम कष्ट को सहने की शक्ति प्रदान करने की प्रार्थना की है।

Advertisement

Advertisement
Advertisement
×
ताजा खबरों के लिए हमारे whatsapp Group से जुड़ें Click Now