For the best experience, open
https://m.creativenewsexpress.com
on your mobile browser.

अल्मोड़ा: गौवंशीय पशुओं को काटे जाने का खुलासा, 04 गिरफ्तार

08:29 PM May 06, 2024 IST | CNE DESK
अल्मोड़ा  गौवंशीय पशुओं को काटे जाने का खुलासा  04 गिरफ्तार
Advertisement

✍️ रात—दिन एक कर ब्लाइंड केस का 03 दिन में पर्दाफाश
✍️ रिची—मोहनरी सड़क के पास काट दिए गए थे 04 बैल
✍️ एसएसपी देवेंद्र पींचा ने दिया 05 हजार का नगद इनाम

Advertisement

सीएनई रिपोर्टर, अल्मोड़ा: जिले के भतरोंजखान क्षेत्र में निर्ममता से गौवंशीय पशुओं को काटे जाने की घटना का पुलिस ने खुलासा कर​ लिया है। इस ब्लाइंड केस का 03 दिन के भीतर पर्दाफाश करने में पुलिस ने सफलता प्राप्त कर ली। इस गंभीर मामले में 04 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है और गौवंशीय पशुओं को काटने में प्रयुक्त ​हथियार बरामद किए हैं। साथ ही मामले से जुड़े वाहन पिकप को भी सीज किया गया है। एसएसपी देवेंद्र पींचा ने इस ब्लाइंड केस का खुलासा करने वाली पुलिस टीम को 5000 रुपये के नगद इनाम से पुरस्कृत​ किया है।

Advertisement

देवेंद्र पींचा, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अल्मोड़ा

मामला के अनुसार 03 मई 2024 को थाना भतरोंजखान को सूचना मिली कि रिची व मोहनरी रोड पर अज्ञात लोगों ने गौवंशीय पशुओं के सिर, पैर व पेट के अन्दरुनी भाग काटकर फेंके हैं। मामला संज्ञान में आने पर पुलिस ने भतरोंजखान थाने में अज्ञात के खिलाफ धारा 3/5/11(1) उत्तराखण्ड गौवंश संरक्षण अधिनियम 2007 के तहत एफआईआर पंजीकृत की गई। मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देवेन्द्र पींचा ने तत्काल घटना के अनावरण व दोषियों की गिरफ्तारी के लिए सीओ अल्मोड़ा/रानीखेत विमल प्रसाद के नेतृत्व में टीमों का गठन कर आवश्यक दिशा-निर्देंश दिये। इतना ही नहीं एसएसपी स्वयं तत्काल घटनास्थल पहुंचे और मौका मुआयना किया। उन्होंने थाना भतरोंजखान पुलिस समेत आसपास के थानों, एसओजी, एलआईयू व सर्विलांस टीमों को सक्रिय किया। ये टीमें गहन छानबीन में जुट गई और गठित टीमों से एसएसपी ने पल-पल की रिपोर्ट ली।

मामले का पर्दाफाश करने एवं छानबीन में जुटी टीमों का मार्गदर्शन करने के लिए सीओ विमल प्रसाद लगातार तीन दिन तक भतरौजखान क्षेत्र में मौजूद रहे। उनके नेतृत्व में थानाध्यक्ष भतरोंजखान मदन मोहन जोशी, एसओजी प्रभारी कुन्दन सिंह रौतेला व पुलिस टीम दिन-रात सुरागरसी-पतारसी में लगी रही और सूचनाओं का संकलन करते हुए दोषियों के बारे में जानकारी जुटाई। अथक प्रयासों से गत दिवस 03 तीन दोषियों सलीम, इसराइल व इमरान को कस्बा भतरौजखान पेट्रोल पम्प के पास से गिरफ्तार कर लिया गयी। इस विवेचना में प्रकाश में आए स्थानीय निवासी हरी सिंह कड़ाकोटी उर्फ हरदा को आज रामनगर रोड भतरोंजखान से गिरफ्तार कर लिया।

Advertisement

एसएसपी देवेंद्र पींचा ने आज अपने कार्यालय में घटनाक्रम का खुलासा करते हुए उक्त पूरा घटनाक्रम बताया। उन्होंने बताया कि आरोपियों ने गत पहली मई को घटना को अंजाम दिया और आरोपी मांस को रामपुर बेचने ले गए। उन्होंने बताया कि स्थानीय निवासी हरी सिंह कड़कोटी उर्फ हरदा पुत्र अमर सिंह निवासी सूणी, भतरोंजखान, जिला अल्मोड़ा ने 04 आवारा घूम रहे बैलों को एकत्रित कर अन्य आरोपियों सुपुर्द किया था।​ जिसके बाद उन्होंने घटना को अंजाम दिया। उन्होंने बताया कि इसमें मुख्य आरोपी सलीम पुत्र जमील निवासी नरपतनगर थाना स्वार, रामपुर उत्तर प्रदेश हाल निवासी ग्राम बधाण, भतरोंजखान, जिला अल्मोड़ा है। जिसमें उसके सा​थी इसराइल पुत्र खलील निवासी दड़ियाल, थाना टाण्डा, रामपुर उत्तर प्रदेश तथा इमरान पुत्र कयूम निवासी मुड़ियाकला, थाना बाजपुर, जिला उधमसिंहनगर शामिल रहे। उन्होंने बताया कि गिरफ्तार लोगों का आपराधिक इतिहास भी खंगाला जा रहा है। एसएसपी ने बताया कि आरोपियों से घटना में प्रयुक्त 02 कुल्हाड़ी, 04 छुरियां, 01 अदद नुकीली लोहे की रोड, धार लगाने वाला पत्थर, 02 रस्से बरामद कर लिये हैं और पिकप वाहन UK 04CA 0628 को सीज कर​ लिया है।

गिरफ्तारी करने वाली अलग—अलग टीमों में थानाध्यक्ष देघाट राहुल राठी, थानाध्यक्ष चौखुटिया जसविन्द सिंह, थानाध्यक्ष द्वाराहाट अवनीश कुमार, एसओजी प्रभारी कुन्दन सिंह रौतेला, उप निरीक्षक सुनील कुमार, कमाल हसन, मदन मोहन जोशी, अजेन्द्र प्रसाद व गंगा राम, अपर उप निरीक्षक करतार सिंह, हेड कानि. आनन्द त्रिपाठी, रविन्द्र सिंह चीमा व अवधेश कुमार, हेड कांस्टेबल मो. शाहिद, मनोज कोहली, संजू कुमार, नीरज पाल, कानि. राकेश भट्ट, नीरज बिष्ट, दीवान बोरा व नीरज पाल शामिल रहे।

Advertisement

Advertisement