For the best experience, open
https://m.creativenewsexpress.com
on your mobile browser.

ट्रैकिंग पर गया 22 सदस्यीय दल रास्ता भटका, 04 की मौत, 13 गंभीर

10:18 AM Jun 05, 2024 IST | CNE DESK
ट्रैकिंग पर गया 22 सदस्यीय दल रास्ता भटका  04 की मौत  13 गंभीर
ट्रैकिंग पर गया 22 सदस्यीय दल रास्ता भटका
Advertisement

उत्तरकाशी : सहस्त्रताल की ट्रैकिंग पर गया 22 सदस्यीय दल खराब मौसम व बर्फवारी के चलते रास्ता भटक गया है। दल के 04 सदस्यों की मौत हो गई है, जबकि 13 गंभीर रूप से बीमार पड़ गए हैं।

Advertisement

उल्लेखनीय है कि कर्नाटक ट्रेकिंग एसोसिएशन का 22 सदस्यों वाला ट्रेकिंग दल उत्तरकाशी के सिल्ला गांव से 29 मई को सहस्त्रताल के लिए रवाना हुआ था। भटवाड़ी मल्ला-सिल्ला-कुशकल्याण-सहस्त्रताल की ट्रेकिंग पर यह लोग निकले थे। जिसकी अनुमति इनके द्वारा ली गई थी। पर्यटन व वन विभाग से ली गई अनुमति में इन्होंने अपनी ट्रेकिंग की समयसीमा 29 मई से 7 जून तय की थी।

Advertisement

इस बीच ट्रेकिंग दल के एक सदस्य ने मंगलवार की शाम को रास्ता भटक जाने और साथियों की हुई मौतों की जानकारी जिला आपदा प्रबंधन उत्तरकाशी तक पहुंचाई। जिसके बाद जिलाधिकारी डॉ. मेहरबान सिंह बिष्ट ने ट्रैकरों को रेस्क्यू करने के लिए निर्देश जारी किए। फंसे ट्रेकर्स व मृतकों के शवों को निकालने के लिए वायु सेना के माध्यम से हेली रेसक्यू अभियान संचालित करने के लिये भी अनुरोध किया है।

सहस्त्रताल पहुंचने के दौरान हुआ मौसम खराब

डीएम ने बताया कि अध्यक्ष, ट्रैकिंग ऐजेन्सी उत्तरकाशी एवं गाइड राजेश ठाकुर द्वारा बताया कि हिमालयन व्यू ट्रैकिंग ऐजेंसी, मनेरी के द्वारा मल्ला-सिल्ला-कुशकल्याण-सहस्त्रताल ट्रैक पर एक 22 सदस्यीय ट्रैकिंग दल को भेजा। जिसमें कनार्टक के 18 सदस्य एवं महाराष्ट्र का एक सदस्य और तीन स्थानीय गाइड शामिल थे।

Advertisement

फिलहाल सहस्त्रताल की ट्रैकिंग रुट पर फंसे ट्रेकर्स को रेस्क्यू करने के लिए एसडीआरएफ व वन विभाग के रेस्क्यू दल अलग-अलग दिशाओं से घटना स्थल के लिए रवाना हो चुकी है। वन विभाग के 10 सदस्यों की रेकी व रेस्क्यू टीम सिल्ला गांव से सहस्त्रताल के लिए निकल चुकी है।

Advertisement
Advertisement